The company is authorised by the Gibraltar कमोडिटी मार्केट की मूल बातें Financial Services Commission as a DLT Provider under the Financial Services Act 2019. Licence No. 25032.

Spot Price- स्पॉट प्राइस

क्या है स्पॉट प्राइस?
स्पॉट प्राइस (Spot Price) यानी हाजिर कीमत किसी मार्केटप्लेस में करेंट प्राइस होती है जिसमें किसी एसेट-जैसे कि सिक्योरिटी, कमोडिटी, या करेंसी की तत्काल डिलीवरी के लिए खरीद या बिक्री की जा सकती है। जहां स्पॉट प्राइस समय और स्थान दोनों के लिए विशिष्ट कमोडिटी मार्केट की मूल बातें होते हैं, वैश्विक अर्थव्यवस्था में एक्सचेंज दरों के लिए लेखांकन करते समय अधिकांश सिक्योरिटीज या कमोडिटीज का स्पॉट प्राइस दुनिया भर में बहुत हद तक एकसमान रहता है। स्पॉट प्राइस के विपरीत, फ्यूचर्स प्राइस यानी वायदा कीमत एसेट के भविष्य में डिलीवरी के लिए सहमत कीमत है।

स्पॉट प्राइस की मूल बातें
स्पॉट प्राइस का संदर्भ सबसे अधिक कमोडिटी फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट, जैसेकि तेल, गेहूं या सोना के लिए कॉट्रैक्ट के कमोडिटी मार्केट की मूल बातें संबंध में दिया जाता है। ऐसा इसलिए है क्योकि स्टॉक हमेशा स्पॉट पर ट्रेड करते हैं। आप उद्धृत कीमत पर किसी स्टॉक की खरीद या बिक्री करते हैं और फिर स्टॉक को नकदी के लिए एक्सचेंज कर देते हैं। फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट प्राइस कमोडिटी की हाजिर कीमत, आपूर्ति और मांग में अपेक्षित बदलावों, कमोडिटी के धारक के लिए रिटर्न की जोखिम मुक्त दर और अनुबंध की परिपक्वता तिथि के संबंध में परिवहन या भंडारण की लागत का उपयोग करने के द्वारा निर्धारित की जाती है। परिपक्वता के लिए लंबे समय वाले वायदा अनुबंध के लिए नजदीक की एक्सपाइरेशन डेट वाले कॉट्रैक्ट की तुलना में अधिक भंडारण लागत होती है। हाजिर कीमतें निरंतर प्रवाह में होती हैं।

Commodity Market Live

ऐप स्वचालित रूप से आपको अद्यतन और वर्तमान विवरण प्राप्त करने के लिए ताज़ा करता है।
इसके अलावा, केवल उस पर क्लिक करके कमोडिटी के लिए पूरा डेटा प्राप्त करें .

मूल दर के साथ कुछ देरी या परिवर्तन हो सकता है। हम दिखाए गए डेटा की शुद्धता की गारंटी नहीं देते हैं।

भारत की कमोडिटी मार्केट में कमोडिटी मार्केट की मूल बातें इन्वेस्टमेंट के लाभ

हमारे देश की कमोडिटी मार्केट में इन्वेस्टमेंट करने पर आपको कई फायदे मिलते हैं जैसेकि:

  1. मुद्रास्फीति के खिलाफ संरक्षण - कमोडिटी एक्सचेंज में कारोबार की जाने वाली कमोडिटीज़ इन्वेस्टर्स को मुद्रास्फीति/ इन्फ्लेशन के कुप्रभावों से बचाती हैं.
  2. मूल्य में उतार-चढ़ाव के खिलाफ बचाव-व्यवस्था - आयात और निर्यात के साथ-साथ उत्पाद मूल्य में उतार-चढ़ाव कमोडिटी बाजार को प्रभावित कर सकता है. कमोडिटी फ्यूचर्स में इन्वेस्ट करने से इन्वेस्टर्स को वास्तविक लेनदेन से महीनों पहले तय की गई कीमत पर कमोडिटी खरीदने या बेचने में मदद मिलती है. इस तकनीक को कमोडिटी बाजार में हेजिंग अर्थात बचाव-व्यवस्था के रूप में जाना जाता है.
  3. विविधीकरण - वस्तुओं में इन्वेस्ट करने से इन्वेस्टर्स वित्तीय प्रतिभूतियों (फाइनेंशिल सिक्यूरिटीज़) के संबंध में अपने इन्वेस्टमेंट पोर्टफोलियो में विविधता ला सकता है.

कमोडिटी कैसे खरीदें अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

  1. कमोडिटी बाजार में कारोबार करने के लिए, एक इन्वेस्टर को सबसे पहले अपना एक DMAT खाता खोलना होगा.
  2. कमोडिटीज का कारोबार वैसे ही होता है जैसे भारत के स्टॉक एक्सचेंजों में विभिन्न शेयरों का कारोबार होता है.
  3. कमोडिटीज में इन्वेस्टमेंट करने के लिए, कमोडिटी फ्यूचर्स और ऑप्शंस, कमोडिटी ETF जैसे कई तरीके हैं, जो सीधे भौतिक वस्तुओं (फिजिकल कमोडिटीज़) में इन्वेस्टमेंट करते हैं.
  4. सभी इन्वेस्टर्स के लिए इस पॉइंट पर पहले ही ध्यान देना बहुत जरुरी है कि, इन्वेस्टमेंट का कौन-सा तरीका उनकी जेब के लिए सबसे उपयुक्त रहेगा और यह तरीका उनकी कारोबारी जरूरतों से मेल खाता है.
  5. कमोडिटी ETFs ट्रेडिंग को काफी आसानी बनाते हैं क्योंकि उन्हें स्टॉक की तरह खरीदा जाता है. हालांकि, स्टॉक एक्सचेंज पर शेयर की कीमतों की तरह ही विभिन्न कमोडिटीज़ की भविष्य की कीमतों में भी अक्सर उतार-चढ़ाव होता रहता है.

SEBI के तीन प्रमुख उद्देश्य नीचे बताये गए हैं: 1. सिक्योरिटीज मार्केट में इन्वे.

पिछले कुछ वर्षों में, स्टॉक टिप मेसेजस, कॉल्स और वेबसाइटों का संकट एक खतरना�.

CATEGORY: Commodity Queries, Trading @ Zerodha अपडेट [21 सितंबर, 2020]: क्योंकि कॉन्ट्रैक्ट्स की वोलैटिलिटी क.

एक अस्पताल जाने के बारे में सोचिये।यह आपको शारीरिक और मानसिक रूप से थका सकत.

ट्रेडर्स, हर रोज़ 1 मिलियन से ज्यादा क्लाइंट ट्रेड करने के लिए कमोडिटी मार्केट की मूल बातें हमारे प्लेटफॉ�.

हेलो! हमें आपके लिए अपना बिल्कुल नया पोज़ीशन पेज को पेश करने में बेहद ख़ुशी हो .

बियॉन्डIRR से परिचय

जैसा कि हमने पहले भी कई बार ये ज़िक्र किया है, सलाहकारों और डिस्ट्रीब्यूटर्स.

ट्रेडर्स और इन्वेस्टर्स, Zerodha में हमें हमेशा शिक्षा और ज्ञान को बाँटना अच्छा.

* Investments in securities market are subject to market risks; Read all the related documents carefully before investing.

We hereby warn about the following risks:

1. Digital signs (tokens) (hereinafter referred to as “tokens”) are not legal tender and are not required to be accepted as a means of payment.

2. Tokens are not backed by the state.

3. Acquisition of tokens may lead कमोडिटी मार्केट की मूल बातें to complete loss of funds and other objects of civil rights (investments) transferred in exchange for tokens (including as a result of token cost volatility; technical failures (errors); illegal actions, including theft).

4. The distributed ledger technology (blockchain), other distributed information system and similar technologies are innovative and constantly updated, which implies the need for periodic updates (periodic improvement) of the information system of Dzengi Com CJSC and the risk of technical failures (errors) in its operation.

रेटिंग: 4.49
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 751